दिल हार गई थी .!!

 दिल हार गई थी .!!

सीमा पटेल

मीठी सी मुस्कान से
जब थामा था हाथ मेरा
तुम्हारी उस मंद मुस्कान में
दिल हार गयी थी ….

हलचल उठी थी मन में
रंग गयी थी चटक रंग में
एक हल्के से स्पर्श से
दिल हार गई थी….

डुबो कर प्रगाढ प्रेम में
नयन भर निहार कर
पहनाई थी मुंदरी उँगली में
दिल हार गई थी ….

उस पल की आसक्ति में
बँधी हूँ तुमसे आज तक
और अंतिम साँस तक, क्योकि
दिल हार गई थी…

शायद तुम भी तो अपरचित नहीं
उस ह्र्दयस्पर्शी छुअन से
जब मैं ,सजल नयन से
दिल हार गई थी .!!

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *