सामाजिक सरोकार के लेखक मुद्रा राक्षस

 सामाजिक सरोकार के लेखक मुद्रा राक्षस

पुण्य तिथि विशेष

मुद्राराक्षस के नाम से विख्यात सामाजिक चिंतक ,उपन्यासकार ,व्यंग्यकार ,आलोचक एवं नाटककार सुभाष चन्द्र गुप्ता का जन्म 21 जून 1933 को लखनऊ के पास बेहटा नामक गाँव में हुआ था ।मुद्रा राक्षस ने 12 उपन्यास, 3 व्यंग्य संग्रह,पाँच कहानी संग्रह,पाँच आलोचना संबंधी पुस्तकें, तीन इतिहास संबंधी पुस्तकें एवं 10 से ज्यादा नाटकों की पुस्तकें लिखीं । कई नाटकों का इन्होंने निर्देशन भी किया। विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में आलोचना सम्बन्धी नियमित लेखन करते रहे। ‘ज्ञानोदय’ एवं ‘अनुव्रत ‘जैसी पत्रिकाओं का संपादन भी किया । लंबी बीमारी के बाद 83 वर्ष की उम्र में 13 जून 2016 को लखनऊ में निधन हुआ ।
आला अफसर’, ‘दंडविधान’, ‘हस्तक्षेप’, ‘कालातीत’ तथा ‘नारकीय’ आदि इनकी प्रमुख कृतियाँ हैं।

उनके साहित्य का अंग्रेज़ी सहित दूसरी भाषाओं में भी अनुवाद हुआ है। वे अकेले ऐसे लेखक थे, जिन्हें सामाजिक सरोकारों के लिए उन्हें कुछ संगठनों द्वारा सिक्कों से तोलकर सम्मानित किया गया था ।

वे उन कुछ साहित्यकारों में से एक थे जो सामाजिक प्रतिबद्धता के लिये जाने गये जिन्होंने बतौर साहित्यकार अपने सामाजिक उत्तरदायित्व का सदैव अनुसरण किया ।समाज में आर्थिक और सामाजिक रूप से शोषितों पर चल रहे अन्याय के प्रति उनका विरोध एवं गुस्सा उनके काम हमेशा दिखा ।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *